what is podcasting in hindi, पॉडकास्टिंग क्या है, हिंदी पॉडकास्ट के लिए बेस्ट ऐप्स कौन से है?-

what is podcasting in hindi, दोस्तों, समय के साथ चीजें बदलती रहती है और वह पहले से भी अपने स्वरूप में एडवांस होती चली जाती है, यह अनुभव आप अपने आसपास बदलती चीजों को देखकर कर सकते है और जब बात टेक्नोलॉजी की हो तो आज के समय मे यही एक ऐसा क्षेत्र है तो बहुत ही तेजी के साथ अपग्रेड हो रहा है और इसी टेक्नोलॉजी के अंतर्गत आता है 'पॉडकास्टिंग'
हैलो दोस्तों स्वागत है आपका हमारे ब्लॉग पर आज हम बात करने जा रहे है, पॉडकास्टिंग (what is podcasting in hindi) के बारे में कि, पॉडकास्ट क्या है? पॉडकास्टिंग के क्या फायदे है? और भविष्य में इसकी क्या संभावनाएं हैं? उम्मीद करता हूँ आपको यह पसंद आएगा।

what is podcasting in hindi, पॉडकास्टिंग क्या है, हिंदी पॉडकास्ट सुनने के लिए बेस्ट ऐप्स कौन से है?-
what-is-podcasting-in-hindi

What is podcasting in hindi

पॉडकास्ट क्या है (what is podcasting in hindi)-

पॉडकास्टिंग एक audio बेस्ड सर्विस है जहां पर आपको आवाज के रूप में content सुनने को मिलता है, भारत मे पॉडकास्टिंग की शुरुआत 2006 में हुई थी हालांकि उस समय यह उतना पॉपुलर नही था, लेकिन अब यह धीरे-धीरे भारत में भी काफी तेजी से पॉपुलर हो रहा है, भारत से बाहर वेस्टर्न कन्ट्रीज में यह बहुत ही ज्यादा पॉपुलर है जैसे कि हम अपने देश मे यूट्यूब को जानते है।
यूट्यूब की बात करें तो यहां पर वीडियो के रूप में content देखने को मिलता है, जबकि पॉडकास्टिंग में केवल audio के रूप में चीजें सुनने को मिलती है, आपके मन यह विचार आ रहा होगा कि केवल ऑडियो सुनने से क्या होगा, तो मैं आपको बता दूं यह भी उतना ही powerful और उपयोगी माध्यम है जितना की कोई अन्य प्लेटफॉर्म।
ऐसी चीजें जिन्हें audio के रूप में सुनकर सीखा जा सकता है, पॉडकास्टिंग से यह संभव है, जैसे- Tech, Motivation, Story, News, Talking etc. आने वाले समय में यह अन्य सोशल मीडिया की तरह पॉपुलर होने वाला है।

पॉडकास्टिंग के क्या फायदे हैं?-

टेलीविजन के घर-घर तक पहुंचने के पहले और आज भी गांवों में या रिमोट एरिया में मनोरंजन का साधन रेडियो ही है, कुछ साल पहले तक वाहनों में भी एफएम रेडियो देखने को मिलता था,
बाद में धीरे-धीरे डिजिटल मीडिया सिस्टम ने इसकी जगह ले ली।
पॉडकास्ट का सबसे बड़ा फायदा यह है कि आप अपना काम करते हुए कुछ भी सुन सकते हैं क्योंकि ऑडियो बेस्ड होता है तो यहां पर कंटेंट भी उसी तरह तैयार किया जाता है, कि आवाज के रूप में सुनकर के लोग समझ सके।
इसके साथ ही यहां पर लगभग सभी कैटगरी से जुड़े कंटेंट मौजूद है, जो कि समय के साथ बहुत ही तेजी के साथ बढ़ रहा है, इसके कई सारे बेहतरीन फायदे है-

Technology-

क्योंकि पॉडकास्ट सुनने के लिए जिस डिवाइस की जरूरत पड़ती है वह है स्मार्टफोन, और आज के समय में लगभग हर व्यक्ति के हाथ में स्मार्टफोन है, पॉडकास्ट सुनना एक नए जमाने का ट्रेंड है जो कभी आज से तीन-चार दशक पहले तक रेडियो का हुआ करता था, क्योंकि अब आज के समय में लोग रेडियो लेकर चलना पसंद नही करते इसलिए शहर और गांव में भी इसका चलन लगभग समाप्त हो रहा है, कुछ परिस्थितियों को छोड़कर।

अपने हिसाब से कंटेंट सुनना-

आज यह रेडियो की जगह ले रहा है क्योंकि इसका एक कारण है कि, 'टेक्नोलॉजी के आने पर यहां आने वाला कंटेंट', जिस तरह से टेलीविजन पर जो चीजें दिखाई देती है उसी को सुनना पड़ता है ठीक उसी तरह रेडियो पर भी जो कार्यक्रम आते हैं उसे ही सुनना पड़ता है, जबकि पॉडकास्ट में ऐसा नहीं है जब आप चाहे जो चाहे सुन सकते हैं, यूजर को अपने हिसाब से जो सुनने का मन करे उसे सुन सकते हैं।

Content-

Radio/FM Radio पर लाइव टेलीकास्ट होता है (24 घंटे नही), खासकर एफएम रेडियो पर, यह जबकि पॉडकास्टिंग में ऑडियो बेस्ट कंटेंट एपिसोड के रूप में सुनने को मिलता है और हर एपिसोड की लंबाई क्रिएटर कंटेंट हिसाब से रख सकता है।

एक क्रिएटर की जॉब के रूप में-

पॉडकास्टिंग करियर के एक नए प्लेटफॉर्म के रूप में उभरा है रेडियो पर आज एक रूप में जॉब पाने के लिए उससे संबंधित कोर्स करना जरूरी होता है और फिर इसके बाद जॉब ढूंढनी पड़ती है।
पॉडकास्टिंग के साथ ऐसा नहीं है, यहां पर आपके पास बात करने की वह स्किल होनी चाहिए जिससे लोगों को जो कुछ भी करना चाहते हैं वह बात समझा पाने में सक्षम हो, जैसे कुछ सिखाना, एंटरटेन करना, स्टोरी सुनाना, बातचीत में माहिर होना etc.
हालांकि इस तरह की स्किल की जरूरत रेडियो में भी होती हैं, लेकिन वहां पर आप घर पर रहकर पढ़ाई करते हुए पार्ट टाइम में वह काम नहीं कर सकते हैं साथ ही इन सब फायदे और नुकसान के बीच इन दोनों की अलग-अलग ऑडियंस और काम करने का तरीका भी अलग होता है कुल मिलाकर बात करें तो पॉडकास्टिंग, छोटे से गांव के स्टूडेंट या शहर में रहने वाले कॉलेज स्टूडेंट्स हो सभी के लिए है जो अपनी आवाज लोंगों तक पहुंचाना चाहते है।
पॉडकास्टिंग कैसे शुरू करते है, इससे पैसे कैसे कमाए जा सकते है इसके बारे में हम किसी अन्य आर्टिकल में बात करेंगे। what is podcasting in hindi

पॉडकास्ट सुनने के कौन-कौन से एप्स है?-

what-is-podcasting-in-hindi
गूगल पॉडकास्ट काफी पॉपुलर एप है जहां पर आपको लगभग सभी तरह के पॉडकास्ट सुनने को मिल जाएंगे, आपके फोन में यह एप काफी कम स्पेस कवर करता है साथ ही इसको यूज़ करना भी काफी आसान है, आप google podcast को प्ले स्टोर से डाउनलोड कर सकते है, इसमें एक अच्छा फायदा है कि यहां एकाउंट बनाने के लिए केवल ईमेल आईडी से लॉगिन करने की जरूरत पड़ती है।
what-is-podcasting-in-hindi
खबरी एप भी एक पॉपुलर प्लेटफॉर्म के रूप में उभर रहा है, यहां पर भी आप न सिर्फ कंटेंट सुन सकते है, बल्कि एक क्रिएटर के रूप में भी वाम करके पैसे कमा सकते है, यहां पर हिंदी और अंग्रेजी भाषा का सपोर्ट मिलता है, साथ ही अन्य एप्स की तुलना में यहां काफी तेजी से क्लिक करते ही ऑडियो प्ले होना शुरू हो जाता है, यदि आप एक सिंपल यूजर इंटरफेस चाहते है तो यह काफी अच्छा है।

Also Read-
Railwire WiFi रेलवे स्टेशन पर फ्री WiFi हमें कैसे मिलता है?-
One Time Password या OTP क्या होता है, OTP  से होने वाले फ्रॉड कैसे बचें?-
Online online jobs for student to earn money, 10 popular jobs जिनसे स्टूडेंट घर बैठे पैसे कमा सकते है-


what-is-podcasting-in-hindi

Anchor भी अन्य बाकी के प्लेटफार्म की तरह है जहां पर आप कोई भी पॉडकास्ट सुन सकते है, इसकी खास बात यह है कि यहां पर आप खुद पॉडकास्ट बना कर अपलोड भी कर सकते है और भविष्य में इससे पैसे कमाने की संभावनाएं आपके लिए खुल जाती है, लेकिन यहां पर अभी हिंदी भाषा मे वाइड रेंज में कंटेंट उपलब्ध नहीं है, लेकिन धीरे-धीरे आने वाले समय में यहां पर भी और अधिक ऑडियो उपलब्ध होंगे, podcasting से पैसे कैसे कमाए जा सकते है इसके बारे में हम किसी अन्य आर्टिकल में बात करेंगे।
ऊपर बताये गए ऐप्स के अलावा भी कई सारे बेहतरीन प्लेटफ़ॉर्म है जहां पर ऑडियो कंटेंट सुन सकते है और इसे एक बार ट्राइ जरूर कर सकते है और ये गूगल प्ले स्टोर पर आसानी से फ्री में उपलब्ध है Best apps to listen podcasting in hindi-

Aawaj.com
KUKU Fm
Pratilipi FM
IVM Podcast
Spotify
Sound Cloud
Audible Suno (amazon)
Pocket FM


आज के समय मे लगभग सभी podcasting प्लेटफ़ॉर्म पर हर तरह के कंटेंट उपलब्ध है, जो भी एपिसोड आपको पसंद आता है आप यूट्यूब की तरह यहां पर भी उस चैनल को सब्सक्राइब कर सकते है और उनसे जुड़ी सूचनाएं पा सकते है, इसके साथ ही जिस क्रिएटर या चैनल के पॉडकास्ट आप सुन रहे है, वह उसी नाम से लगभग सभी प्लेटफ़ॉर्म पर उपलब्ध है (हालांकि ऐसे कुछ ही एप्स है, जैसे spotify, google podcast, anchor.fm etc.) आप इनमें से किसी भी एप के माध्यम से उसे सर्च कर सकते है और उसके कंटेंट को एक्सेस कर सकते है।

Post a comment

0 Comments