One Time Password या OTP क्या होता है, OTP  से होने वाले फ्रॉड कैसे बचें?-

one time password, आज इंटरनेट का दायरा बहुत बढ़ गया है कंप्यूटर या स्मार्टफोन पर होने वाले लगभग सभी काम ऑनलाइन हो गए हैं अब क्योंकि ऑनलाइन की सुविधा होने से सारी चीजें घर से ही करना या किसी भी जगह पर मौजूद होकर करना आसान है इसलिए अधिक से अधिक संख्या में लोग यहां जुड़ते जा रहे है यहां पर बढ़ती संख्या को देखकर यहां फ्रॉड करने वाले लोग भी मौजूद है जो इस बात की फिराक में रहते है कि कब आप गलती करें और आपके पैसे या महत्वपूर्ण जानकरी को चुरा सकें, जिस प्रकार से हम ताला लगाकर अपने घर को सुरक्षित रख सकते है, ठीक उसी प्रकार इस ऑनलाइन दुनिया में खुद को सुरक्षित password और OTP को संभाल कर रखना होता है।

One Time Password या OTP क्या होता है, OTP  से होने वाले फ्रॉड कैसे बचें, पूरी जानकारी-

one-time-password.jpeg

दोस्तों आपने कभी ना कभी यह जरूर अनुभव किया होगा कि, कोई भी ट्रांजैक्शन करते समय या किसी एप और वेबसाइट पर न्यू अकाउंट क्रिएट करते समय अपना मोबाइल नंबर डालने के पश्चात 4 digit या 6 digit का कोड उस फोन नंबर पर मैसेज किया जाता है, जिसको डालने के पश्चात ही हम अपना अकाउंट वेरीफाई कर पाते हैं या किसी भी ट्रांजैक्शन को कंप्लीट कर पाते हैं।
आपके फोन नंबर पर आने वाले इसी मैसेज को वन टाइम पासवर्ड(One Time Password) या ओटीपी या डायनेमिक पासवर्ड(Dynamic Password) कहा जाता है जो कि एक अतिरिक्त सिक्योरिटी प्रदान करता है इस ऑनलाइन वर्चुअल दुनिया में, खासकर कोई भी ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करते समय यह बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

one time password का प्रयोग क्यों किया जाता है?-

आपने देखा होगा कि जब भी हम सोशल मीडिया या कहीं पर भी कोई अकाउंट ओपन करते हैं तो वहां पर यूजरनेम, ईमेल आईडी के साथ एक पासवर्ड भी बनाने को कहा जाता है ताकि उस अकाउंट में केवल आप ही लॉगिन हो सके और कोई और नहीं क्योंकि बिना उस पासवर्ड के कोई दूसरा व्यक्ति लॉगिन नहीं कर सकता इसलिए आपका अकाउंट सेफ रहता है।
ओटीपी भी एक प्रकार का पासवर्ड ही है जिससे एक और सिक्योरिटी आपके अकाउंट में या ट्रांजैक्शन के समय जुड़ जाती है, जिसको एंटर करने के बाद ही वहां पर ट्रांजैक्शन को कंप्लीट किया जा सकता है।
जब भी आपको किसी वालेट से जुड़े कैश जैसे कि Paytm cash, PhonePe cash, लाटरी से जुड़े फोन कॉल, आपके ATM कार्ड की समस्याओं को फोन पर ही सही करने के लिए कॉल, आए तो यह आपके साथ फ्रॉड करने के लिए ही किए जाते हैं।

एक OTP का प्रयोग कितनी बार किया जा सकता है?-

एक बार मैसेज मिलने के बाद उसमें मौजूद 6 digit या 4 digit के पासवर्ड को केवल एक बार ही प्रयोग किया जा सकता है इसके साथ ही उस मैसेज की समय सीमा भी होती है जैसे ट्रांजैक्शन करते समय यह 10 मिनट तक के लिए वैध होता है और अन्य चीजों के लिए 30 मिनट तक या अधिकतम 24 घंटे तक वैध होता है और यह जानकारी आपको उसी ओटीपी के मैसेज में मिल जाएगी।

इस सुविधा को कैसे शुरू किया जा सकता ?-

जब भी आप कोई ऑनलाइन खरीदारी करते हैं या किसी को पैसे भेजते हो तो यह बैंक तरफ से डिफ़ॉल्ट रूप से हमेशा one time password भेजा जाता है ताकि हमेशा यह पता लगाया जा सके कि जो व्यक्ति पैसे भेज रहा है या ऑनलाइन पेमेंट कर रहा है असल में वह वही है जिसका यह अकाउंट है।
2. यदि आपका कोई अकाउंट है और इस पर चाहते हैं कि जितनी बार भी हम लॉग इन करें । हमें एक OTP प्राप्त हो ताकि केवल वही लॉगइन कर पाए  जिसका वह खाता है तो इसके लिए आपको Two Factor Authentication या Two Step Verification को ऑन करना होगा और यह सुविधा लगभग सभी ऐप्स में होती है जैसे ईमेल आईडी में लॉगिन करना पेटीएम, पीपल, फेसबुक इंस्टाग्राम ,स्नैपचैट, नेट बैंकिंग इत्यादि, Two Step Verification को किस तरह ऑन करते है इसके बारे में हम किसी अन्य आर्टिकल में बात करेंगे।
3. जब भी आपको बैंक से या किसी भी ऐप से one time password वाला मैसेज मिलता है तो उसके कोई भी पैसे नहीं लिए जाते इसके अलावा यदि आप बैंक या ऐप के लिए किसी अन्य सर्विस को एक्टिवेट करते हैं तो आपको नेटवर्क प्रोवाइडर के हिसाब से उस मैसेज के पैसे लिए जा सकते हैं, मैं फिर बता दूं कि आप से ओटीपी के लिए कोई पैसे नहीं लिए जाते हैं।
one-time-password

एक मजबूत password बनायें-

अपने एकाउंट को सेफ रखने के लिए पासवर्ड हमेशा मजबूत रखें, पासवर्ड से जुड़ी जानकारी के लिए नीचे इस पोस्ट को पढ़ सकते है।

Password का यूज़ करते समय इन बातों का ध्यान रखें नही तो हो सकते है फ्रॉड का शिकार-

Emoji meaning in hindi इमोजी क्या होते है और इन्हें कब यूज करना चाहिए?-

बैंक के द्वारा कभी भी आपके एटीएम कार्ड, खाता से जुड़ी कोई भी पर्सनल जानकारी फोन पर नहीं मांगी जाती है, यदि आपके खाते से जुड़ी कोई समस्या है तो ही फोन करके या किसी अन्य माध्यम से आप से संपर्क करके आपको बैंक शाखा में बुलाया जाता है।

अपना ओटीपी किसी के साथ शेयर ना करें-

आजकल लोगों को साथ धोखाधड़ी के हजारों मामले रोजाना देखने को मिल रहे हैं इसके पीछे का कारण यह है कि अनजाने में लोग अपना OTP उस व्यक्ति को दे देते हैं क्योंकि एक बार ओटीपी डालने के बाद कोई भी व्यक्ति आपके अकाउंट को लॉगइन कर सकता है और सारे पैसे एक झटके में गायब कर सकता है, यहां पर यह बात ध्यान रखें कि कोई भी बैंक आपसे फोन पर आपके पासवर्ड या ओटीपी  मांग नही करता है तो यदि आपको यह फोन आता है कि आपका कोई अकाउंट बंद होने वाला है कृपया हमें इससे जुड़ी डिटेल बताएं ताकि हम इसको चालू कर सके या रिन्यू कर सके, ऐसे लोगों को आपके खाते का सारा पैसा निकाल सकते हैं जैसे ही आपने OTP उनको दिया, इस बात का जरूर ध्यान रखें कि जब भी बैंक को आपसे कोई भी काम होता है, आपको आपको फोन करके उनकी ब्रांच पर बुलाया जाता है।

Post a comment

0 Comments