Qualcomm Quick Charge फ़ास्ट चार्जिंग टेक्नोलॉजी क्या है,ये कैसे काम करती है?-

Qualcomm Quick Charge दोस्तों स्मार्टफोन खरीदते समय आपने, स्मार्टफोन की मिलने वाली बैटरी पावर को ध्यान में जरूर रखा होगा, क्योंकि फोन को ऑन रखने की पूरी जिम्मेदारी battery के साथ होती है, पर क्या आपने यह सोचा है कि समय के साथ और ज्यादा big बैटरी होने के बावजूद हम अपने फोन को कैसे पहले की तुलना में अधिक तेजी के साथ कम समय में कैसे charge कर पाते हैं?-
qualcomm-quick-charge

Qualcomm Quick Charge और अन्य फ़ास्ट चार्ज टेक्नोलॉजी क्या है, ये कैसे काम करती है?-

चार्जिंग की history-

थोड़ी हिस्ट्री की बात करें तो अब से कुछ साल पहले तक जब हमारे phone काफी छोटे हुआ करते थे और उनके साथ मिलने वाले फीचर भी लिमिटेड यानी कुछ गिने-चुने जैसे calling, कैलेंडर, वाच, गेम, torch जैसे फीचर मिलते थे, उनमें मिलने वाली बैटरी की क्षमता भी low हुआ करती थी, फिर भी आराम से दो से तीन दिन तक की बैटरी बैकअप दे सकती थी।
इनफैक्ट कुछ ऐसे फोन भी थे जिनकी battry हफ्तों तक चल जाती थी, नोकिया का Nokia 3310 इनमें से एक था, इन फोन्स की चार्जिंग की बात करें तो इसमें 3.7 से 5 वोल्ट तक का इनपुट करंट दिया जाता था और इनको फुल चार्ज करने में कई hours लग जाते थे।
धीरे-धीरे समय के साथ technology और इंप्रूव होती जिसमें फोन में और फीचर्स जैसे internet एक्सेस करना, मल्टीमीडिया, ब्लूटूथ, वाईफाई, गेम्स और फोन की बढ़ती हुई स्क्रीन जैसे फीचर्स आने लगे, जिसके बाद हमें अपने फोन में और बड़ी बैटरी की जरूरत पड़ने लगी क्योंकि पहले ही बैटरी को चार्ज करने में time इतना अधिक लगता था और इसलिए अब अधिक power की बैटरी लगाने पर और अधिक time लगना स्वाभाविक था।
इस टाइम को कम करने के लिए qualcomm ने अपनी नई टेक्नोलॉजी quick charge 1.0 को लॉन्च किया, जो कि स्मार्टफोन की बड़ी बैटरी को पहले की तुलना में काफी fast चार्ज कर सकने में सक्षम थी।

ये quick charge टेक्नोलॉजी काम कैसे करती है?-

हमारे charger से मिलने वाले आउटपुट में दो वेरिएशन निर्भर करते है, जिसमें पहला है volt और दूसरा एम्पियर, चार्जर के आउटपुट में मिलने वाले इन्ही दोनों वेरिएशन को गुणा करने पर जो रिजल्ट मिलता है, वो हमारे चार्जर का power होता है, जो कि watt में गिना जाता है।
बेसिक चार्जर की बात करें तो यह 5volt, 1ampier का होत है, जो कि 5watt का आउटपुट देता है, चार्जिंग को फास्ट करने के लिए, चार्जर में मिलने वाली इन्हीं दोनों वेरिएशंस को बढ़ाकर चार्जिंग में लगने वाले time को कम किया जाता है, जैसे जैसे हम वोल्टेज को बढ़ाते हैं हमें, आउटपुट में मिलने वाला करंट भी पहले से कहीं ज्यादा पावरफुल मिलता है।
charging level को manage करने के लिए सर्किट में एक Charge Controller IC लगा होता है, जो करंट को मेंटेन रखता है, जिसकी मदद से battery charging तो तेज़ी से हो पाती है और साथ में बैटरी के discharge process को मेंटेन रखा जाता है, इस कारण हम फ़ास्ट चार्ज की हुई बैटरी को लंबे समय तक इस्तेमाल कर सकते है।
क्वालकॉम की तरफ से आने वाला क्विक चार्ज1.0,  5Volt और 2Amp पर काम करता है जिसका 10 वाट आउटपुट मिलता है, इसके बाद qualcomm ने क्विक चार्ज सीरीज को आगे बढ़ते हुए इसके कई नए verson लांच किए, जो कि नीचे दिए गए है-

Qualcomm Quick Charge 1.0 5V-2A/10W

Qualcomm Quick Charge 2.05V / 9V / 12V1.67A / 2A 18W

Qualcomm Quick Charge 3.03.6V – 20V2.5A / 4.6A18W

Qualcomm Quick Charge 4.05V / 9V or 3.6V – 20V3A or 2.5A / 4.6A27W

Samsung Adaptive Fast Charging 5V / 9V2A18W

Moto Turbo Power 15 9V / 12V1.2A / 1.67A15W

मोटो टर्बो Power 25 5V / 9V / 12V2.15A / 2.85 A25W

Moto Turbo Power 30 5V 5.7A 28.5W

स्मार्टफोन्स में मिलने वाली fast charging टेक्नोलॉजी-

लगभग सभी smartphone कंपनीयां, क्वालकॉम के इस टेक्नोलॉजी का प्रयोग करती हैं, और इसको अपने द्वारा दिए गए नामों से बुलाती हैं, ताकि कस्टमर उनको अलग नजरिये से देखे, हालांकि ये सिर्फ एक मार्केटिंग term है, और इससे ज्यादा कुछ नही, कंपनीयां अपने चार्जिंग सिस्टम को नीचे दिए इस नामों से बुलाती है-

a. Huawei       Supercharge

b. Oneplus      Dashcharge

c. Samsung    Adaptive Fast Charging

d. Vivo 

e. Oppo           Vook Charge

f. Motorola.    Turbo Charge

g. Qualcomm Quick Charge

Oppo ने अपने नए सुपर वूक टेक्नोलॉजी को इंट्रोड्यूस किया जो कि इसके पिछले वूक चार्ज से काफी फ़ास्ट है, इसके अलावा कुछ समय पहले oneplus ने अपने।नए स्मार्टफोन oneplus6T के मैक्लेरन एडिशन में 30watt के सुपर वार्प चार्ज को लाया था जो कि, 20 मिनट में फ़ोन को 50% तक चार्ज कर सकता है।
Vivo भी इस मामले में किसी से पीछे नही है, जिसने अपने स्मार्टफोन V11 में डुएल इंजन फ़ास्ट चार्जिंग को लाया, जो कि काफी फ़ास्ट है, फ़ास्ट चार्जिंग के फीचर आनन्द लेने के लिए आपके smartphone में इसका फीचर होना चाहिए, नही तो फ़ास्ट चार्जर से connect करने पर यह कोई प्रभाव नही दिखायेगा।

Post a Comment

2 Comments