Google fuchsia Os क्या है गूगल का फ्यूशिया ओएस, क्या यह आगे जायेगा एंड्राइड से

Google fuchsia Os क्या एंड्रॉइड से बेहतर होगा और क्या यह ले सकता है, एंड्राइड की जगह? Google fuchsia Os: Everything you need to know एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम आज के समय में स्मार्टफोंन में सबसे ज्यादा यूज किया जाने वाला ऑपरेटिंग सिस्टम है, यह  सिस्टम software Google की तरफ से स्मार्टफोन बनाने वाली compny को दिया जाता है और फिर उनकी तरफ एंड्राइड को स्मार्टफोन में कस्टमर को प्रोवाइड किया जाता है, आज के समय में android सबसे पॉपुलर operting system है |
एंड्राइड की बात करते यह सबसे पहले डिजिटल camera के लिए बनाया गया था, इसमें पॉपुलर होने के बाद यह स्मार्टफ़ोन्स में फिर T.V., स्मार्ट वॉच, कार system और अन्य गैजेट्स में भी मिलने लगा, जब से एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम में स्मार्टफोन मार्केट में entry की है। तभी से यह पॉपुलर होना start हो गया और आज के समय में इसका अंदाजा इसी से लगाया सकते हैं, कि हर 10 में से लगभग 8 smartphone इसी operting system पर चलाते हैं, लेकिन गूगल ने अपने इयरली होने वाले प्रोग्राम Google I/O 2017 में एंड्रॉयड की जगह अपने नए ऑपरेटिंग सिस्टम Fuchsia Os को इंट्रोड्यूस किया।
google-fuchsia-os

Google fuchsia Os क्या है गूगल का ये फ्यूशिया ओएस ?

Fuchsia Os vs Android Os

गूगल का यह नया fuchsia Os काफी हद तक एंड्रॉयड के जैसा ही होने वाला है और इसमें थोड़ा विंडोज की तरह tile सिस्टम भी देखने को मिल सकता है, इसका कॉन्सेप्ट 2017 में आया था जो गूगल ने, उस साल आयोजित Google I/O में इसको ऑफिशियली अनाउंस किया था, और इसके बारे में लोगों को information दी थी। Google की तरफ से आने वाला यह नया ऑपरेटिंग सिस्टम फ्यूशिया, क्या यह android का सक्सेसर हो सकता है क्या यह एंड्रॉयड की तरह पॉपुलर हो पाता है यह तो आने वाले time में ही पता चल पाएगा, लेकिनं कुछ ऐसे कारण है जिनकी वजह से गूगल ने इस नए opreting system को लाने की योजना बनाई है जो कि निचे दिए गए है-

एंड्राइड पर गूगल का कंट्रोल-

android के ऊपर गूगल का पूरी तरह से कंट्रोल नहीं है, जिसका कारण यह है कि, ऐसी बहुत सी स्मार्टफोन कंपनियां है, जो अपने स्मार्टफोन में android ऑपरेटिंग सिस्टम देती तो है, पर उसको अपने हिसाब से कस्टमाइज(edit) करके देती हैं, जिसे कस्टम यू आई कहते है, कस्टम यू आई के बारे में हमने एक अलग post लिखा है, इसके बारे में अधिक जाने के लिए कृपया यहां क्लिक करें click here-
जिन स्मार्टफोन्स में स्टॉक एंड्राइड या प्योर android आता है, गूगल का उन पर कंट्रोल अपना खुद का होता है, इनके द्वारा ही अपडेट्स relese हो जाते हैं और जिन स्मार्टफोंस में कस्टम यूआई मिलता है उस में दिया जाने वाला अपडेट पूरी तरह से smartphone बनाने वाली उस कंपनी के ऊपर होता है कि वह अपने किस स्मार्टफोन को कितना update देगी।
custom UI वाले फोन्स में गूगल सीधे ही अपडेट अपडेट्स नहीं भेज पाता, बहुत बार ऐसा होता है कि, जब भी Google का नया एंड्राइड अपडेट आता है तो बहुत ही कम smartphone में देखने को मिलता है, जिसका कारण है, की स्मार्टफोन कंपनियां खुद के UI वाले अपडेट्स भेजती है, न कि Google के और साथ ही Google के अपडेट्स उन्हीं स्मार्टफोन में देखने को मिलता है जिनमें, स्टॉक एंड्रॉयड या प्योर एंड्राइड मिलता है, आने वाले समय में इस नए Fuchsia Os पर गूगल का पूरा कंट्रोल होगा ताकि वह अपने new रेगुलर अपडेट्स सभी Phone में भेज सकें और इसकी मदद से कंसिस्टेंस यूजर एक्सपीरियंस ले पाए।
google-fuchsia-os


also read यह भी पढ़ें-
अपने smartphone से ही प्लेटफॉर्म टिकट and लोकल ट्रेन टिकट book करें, बिल्कुल आसानी से-

Google fuchsia Os
fingerprint sensor कैसे काम करता है?, और यह कितने type का होता है?

इकोसिस्टम eco system -

इस नए Fuchsia Os में भी आपको एंड्रॉयड और एप्पल के आईओएस इकोसिस्टम की तरह ही एक नया eco system मिल सकता है जिसे आप एक डिवाइस को किसी दूसरे डिवाइस से बहुत easy कनेक्ट कर सके, अब यहां पर इकोसिस्टम का मतलब यह है कि एक ही ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलने वाली सारी डिवाइस जैसे स्मार्टफोन, स्मार्ट वॉच टीवी, फ्रिज और ए. सी. जैसी डिवाइसेस को एक-दूसरे से कनेक्ट करना और use करना काफी आसान हो जाता है, जिससे कि हम अपने smartphone से ही सारे डिवाइसेज को कंट्रोल कर सकते हैं, और उनकी एक्टिविटी को चेक कर सकते हैं।

एप्सapps -

एंड्रॉयड phone में चलने वाली एप्स इस नए Fuchsia Os में भी काफी आसानी से यूज की जा सकेंगी, फ्यूशिया ओएस में यूज किए जाने वाले एप्स .Far एक्सटेंशन name के साथ देखने को मिलेंगे, जो कि काफी कुछ मिलते जुलते रहेंगे एंड्रॉएड के .Apk फाइल से, इतना ही नहीं आने वाला यह नया ऑपरेटिंग सिस्टम सारे एंड्रॉयड एप्स को भी run करने में सक्षम होगा।
एंड्राइड ऐप्स के android-studio पर लिखे या बनाये जाते है, और इस इस नए ओएस के लिए, एप्स flutter  का उपयोग करके बनाए जाएंगे। एंड्राइड को सफल बनाने के पीछे गूगल ने काफी hard work , रिसर्च और इन्वेस्ट किया है, और हर वह कंपनी जो अपने स्मार्टफोन में एंड्रॉयड ऑपरेटिंग सिस्टम देती है, वह भी एंड्राइड को ही प्रमोट करती है, यही कारण है कि यह आज इतना बड़ा eco system बन गया है।
तो दोस्तो आपको क्या लगता है android ऑपरेटिंग इस स्मार्टफोन कैटगरी में इतना पॉपुलर होने के बावजूद पर क्या यह नया Fuchsia Os उसी तरह अपनी पहचान बना पाएगा या आने वाले time  में नए अपडेट्स में गूगल इसको एंड्राइड के साथ ही mix करके देगा। जरूर बताएं निचे कमेंट में और नए पोस्ट की notofication पाने के लिए निचे दिए गए इस subscribe के बटन को दबाएं- Google fuchsia Os.

Post a Comment

0 Comments